जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि अब जवान अपनी कोई भी शिकायत है तो वे सीधे हेडक्वॉर्टर में शिकायत करें।

पिछले कुछ दिनों से लगातार अर्धसैनिक बलों व सेना के जवानों के द्वारा सोशल मीडिया पर विडियो डालकर अर्धसैनिक बलों व सेना के अंदर चल रही अनियमिताओं को उजागर किया है | हाल का मामला देहरादून के 42 इन्फेन्ट्री ब्रिगेड में तैनात लांस नायक यज्ञ प्रताप सिंह का है जिस मै उन्होंने अपने ऊपर भेदभाव, उत्पीड़न आदि के आरोप लगाए है |
jpg-Lt-GenRawat
जिस पर सेना प्रमुख बिपिन चंद्र रावत ने तत्काल संज्ञान लेते हुए कहा की जवानों को इस तरह से विडियो जारी करके अपने दुःख जाहिर करने की आवश्यकता नहीं है क्योकि अब हर आर्मी हेडक्वॉर्टर पर शिकायत पेटी लगाई जाएगी। जिस पेटी को वो खुद खोलेंगे। और जवानों की शिकायतओ का निपटारा करगे |
इस से पूर्व बीएसएफ के जवान तेज बहादुर का एक विडियो वायरल हो गया था। इसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि जवानों को अच्छा खाना नहीं दिया जाता, और अधिकारी उनके राशन को बाजार में बेच देते हैं।वहीं, दूसरा विडियो सीआरपीएफ के जवान का सामने आया। जिसमे उसने यह आरोप लगाया कि एक जैसी ड्यूटी के बावजूद उन्हे सेना के मुकाबले उन्हें बेहद कम सुविधाएं दी जाती हैं। जिसका समर्थन रिटायर्ड अर्धसैनिक बलों के अधिकारियो ने भी किया है| इन विडियोज के सामने आने के बाद अफसरों से लेकर पीएमओ तक हरकत में आया और मामले की जांच के आदेश दे दिए गए है|


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *